Taj Mahal history in hindi-ताजमहल का इतिहास और ताजमहल से जुडी कुछ दिलचस्प बातें। - CHAL WAHAN JAATE HAIN

Latest

Friday, April 17, 2020

Taj Mahal history in hindi-ताजमहल का इतिहास और ताजमहल से जुडी कुछ दिलचस्प बातें।



Taj Mahal- The Symbol of Love
Taj Mahal - जैसा की हम सब जानते हैं कि शान-ए-हिंदुस्तान और मोहब्बत की मिसाल कहे जाने वाला Taj Mahal केवल हिंदुस्तान में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में एक नायाब इमारत के रूप में मशहूर है। यही वजह है कि सफ़ेद संगमरमर से बनी इस नायाब इमारत को दुनिया के 7 अजूबों में से एक कहा गया है। 

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन जब साल 2000 में भारत आये थे तब उन्होंने Taj Mahal देखने के बाद कहा था कि आज मुझे एहसास हुआ है कि इस दुनिया में सिर्फ 2 तरह के ही लोग होते हैं एक जिन लोगों ने ताजमहल देखा है, और दूसरे वो जिन्होंने ताजमहल नहीं देखा। 



About Taj Mahal in hindi - ताजमहल की बनावट 

Taj Mahal
About About Taj Mahal in hindi in hindi - मोहब्बत की मिसाल ताजमहल को पाँचवें मुग़ल बादशाह शाहजहाँ नें बनवाया था। शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज़ महल की मौत के बाद उनकी याद में साल 1631 में Taj Mahal  बनवानें का फैसला किया। ताजमहल बनवाना उस समय कोई आसान काम नहीं था। ताजमहल बनवाने के लिए दुनिया के कोने कोने से सबसे बेहतरीन कारीगरों को बुलवाया गया और लगभग 20 हज़ार से भी ज़्यादा मज़दूरों ने लगकर ताजमहल को बनाने का काम शुरू किया इसके अलावा भारी पत्थरों को लाने ले-जाने के लिए एक हज़ार हाथियों से भी काम लिया गया। Taj Mahal बनानें में हर चीज़ को हीरे की तरह परख कर इस्तेमाल करने के लिए चुना गया। यह पूरा काम उस्ताद अहमद लाहौरी की देखरेख में कराया जा रहा था। 


 About Taj Mahal in hindi-लकड़ी की नींव पर बनाया गया है ताजमहल 

Taj Mahal (Yamuna View)
Taj mahal ताजमहल को आबनूश की लकड़ी की नींव पर बनाया गया है इस लकड़ी को ईरान से मंगाया गया था। इस लकड़ी को नमीं की ज़रूरत होती है। कहा जाता है की आबनूश की लकड़ी को अगर 100 साल नमीं मिलेगी तो यह लकड़ी अगले 200 साल तक के लिए और भी फौलादी हो जाती है। इस लकड़ी को हमेशा नमीं मिलती रहे इसलिए Taj mahal को यमुना नदी के किनारे बनाया गया है। 


About Taj Mahal in hindi-बेशकीमती पत्थरों को दुनिया भर से मंगाया गया 

Precious Stone
Taj Mahal - ताजमहल बनाने में ज़ेड और क्रिस्टल, लेपिस लूजली, तारफोइल, जेस्पर, सेफायर, कार्नेलियन  जैसे  28 तरह के बेशकीमती पत्थरों को संगमरमर में जड़ा गया है। दुनियाभर से मंगाए गए इन पत्थरों की वजह से ही Taj Mahal सुबह गुलाबी, दिन में सफ़ेद और रात में सुनेहरा नज़र आता है। 




About Taj Mahal in hindi-ताजमहल की गुम्बद

Taj Mahal Gumbad
Taj Mahal - ताजमहल की गुम्बद के ऊपर 30 फ़ीट की ऊँचाई वाले इस कलश को 466 किलोग्राम सोने से बनाया गया था साल 1900 की शुरुआत में इसे बदलकर कासें का कलश बना दिया गया। 


















About Taj Mahal in hindi-ताजमहल की मीनारें 

Taj Mahal Meenar
Taj Mahal - ताजमहल के चारों तरफ चार मीनारें बनायीं गयी हैं इन मीनारों को बहार की तरफ हल्का झुकाव दिया गया है जिससे कभी प्राकर्तिक आपदा आने पर मीनारें मकबरे पर न गिरकर बाहर की तरफ गिरें। 

About Taj Mahal in hindi-ताजमहल के फव्वारे 

Taj Mahal Park View
Taj Mahal - ताजमहल के सभी फव्वारे एक साथ काम करते हैं इनके बीच एक टैंक बनाया गया है जिसमें पानी भर जाने के बाद दबाव बनने पर ये फव्वारे एक साथ पानी छोड़ते हैं। 


About Taj Mahal in hindi-ताजमहल की मस्जिदें 

Taj Mahal Mosque
Taj Mahal - ताजमहल की दोनों तरफ मस्जिदें बनायीं गयीं हैं। इन मस्जिदों की खास बात यह है की इन मस्जिदों के सामने कुछ बोलने पर आवाज़ लाऊड स्पीकर की तरह बहुत तेज़ हो जाती है उस ज़मानें में इन मस्जिदों के सामने खड़े होकर अज़ान दी जाती थी ताकि अज़ान की आवाज़ लोगों तक पहुँच सके।


About Taj Mahal in hindi- कुतुबमीनार से भी ऊँचा है ताजमहल 

Qutub Minar

Taj Mahal - भारत में कुतुबमीनार को सबसे ऊँची मीनार कहा जाता है जो 72.50 मीटर ऊँची है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी की ताजमहल की ऊंचाई कुतुबमीनार से भी ज़्यादा है। ताजमहल 73 मीटर ऊँचा है Taj Mahal की ऊंचाई कुतुबमीनार से आधा मीटर ज़्यादा है। 




Taj Mahal History - शाहजहाँ ने ताजमहल जैसी दूसरी ईमारत को न बनाने का कराया था वादा 

Workers
Taj Mahal History- कहा जाता है कि शाहजहाँ नें ताजमहल बनाने वाले मज़दूरों के हाथ कटवा दिए थे लेकिन इतिहासकारों के मुताबिक शाहजहाँ नें मज़दूरों के हाथ नहीं कटवाए थे बल्कि उन्हें ज़िन्दगी भर की तनख़्वाह देकर कभी भी Taj Mahal जैसी किसी ईमारत को दोबारा न बनाने का वादा कराया था।



Taj Mahal History - शाहजहाँ की आखरी ख्वाइश 

Prison
Taj Mahal History - ताजमहल बनवानें में मुग़लिय ख़ज़ाने का एक बड़ा हिस्सा ख़त्म हो चुका था और इस बात से खफा होकर शाहजहाँ के अपने ही बेटे औरंगज़ेब नें शाहजहाँ को बंदी बना लिया शाहजहाँ से उनकी ख्वाइश पूछे जाने पर उन्होंने कहा की उन्हें ऐसी जगह कैद किया जाये जहाँ से वह ताजमहल को देखते रहें और ऐसा ही हुआ शाहजहाँ को कैदखाने में ऐसी जगह बंदी बनाया गया जहाँ से वो Taj Mahal देख सकते थे।

Taj Mahal History

शाहजहाँ नें अपनी ज़िन्दगी के आखरी 8 साल Agra किले के क़ैदख़ाने में काटने के बाद अपनी आखरी सांसे ली और 22 जनवरी 1666 में शाहजहाँ नें इस दुनिया से अलविदा कह दिया इसके बाद शाहजहां को Taj Mahal में ही उनकी बेगम मुमताज़ महल की कबर के बराबर दफन कर दिया गया। 

Taj Mahal - The Symbol Of Love मुमताज महल और शाहजहाँ की बेपनाह मोहब्बत की गवाही देता आ रहा ताजमहल।  





Taj Mahal History - शाहजहाँ जानते थे की ये बादशाहत ये शान ओ शौक़त ये ज़िंदगी एक दिन नहीं रहेगी इसीलिए शाहजहाँ ने अपनी मोहब्बत को हमेशा ज़िंदा रखने के लिए इस नायाब इमारत Taj Mahal को बनवाया जो ताजमहल सदियों से आजतक मुमताज महल और शाहजहाँ की बेपनाह मोहब्बत की गवाही देता आ रहा है। 




How To Reach Agra -आगरा कैसे पहुंचें 



How To Reach Agra -  Taj Mahal City आगरा में हवाई अड्डा होने की वजह से देश के कई शहरों से आप आगरा आसानी से पहुँच सकते हो। इसके अलावा दिल्ली, लखनऊ और मेरठ जैसे शहरों से उत्तर प्रदेश परिवहन की बसें भी आगरा के आने जाने के लिए भी चलायी जाती हैं। 



Agra Transport - आगरा शहर की इंटरसिटी बसें और ट्रांसपोर्ट 

Agra Intercity Transport
Agra Buses and Transport आगरा शहर में आपको इंटरसिटी बसें भी आसानी से मिल जाती है इसके अलावा यहाँ कैब और ऑटोरिक्शा भी Taj Mahal या Agra की किसी भी टूरिस्ट प्लेस तक ले जाने के लिए आसानी से मिल जायेंगे। 


उम्मीद है की आपको मेरी पोस्ट पसंद आयी होगी। यह पोस्ट आपको कैसी लगी कॉमेंट करके ज़रूर बताएं और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आयी तो इसे अपने दोस्तों में ज़्यादा से ज़्यादा शेयर ज़रूर कीजियेगा। मेरी हमेशा यही कोशिश रहेगी की मैं आपके लिए ऐसी ही खूबसूरत जगहों के बारे में पूरी जानकारी लाता रहूं और आपको अपडेट करता रहूं। आशा करता हूँ की आप भी इसी तरह अपना प्यार बनाएं रखेंगें जिससे मुझे हमेशा मोटिवेशन मिलता रहेगा। 


Thank you 😊😊

1 comment: